सेना को कमजोर करते दाल के दलाल

सुधीर राघव

मोदी सरकार में दालों ने खूब चढ़ाव और हल्के उतार देखे। महंगाई के नए रिकार्ड बनाए।

55 रुपये किलो बिकने वाली अरहर ने 250 रुपये तक का आंकङा छुआ तो 40 के भाव बिकने वाली चना दाल 170 रुपये किलो तक बिकी। दाल के दलालों पर मोदी जी की खास महरबानी रही और मूंग, मसर, मलका सबने कीमत के नए रिकार्ड बनाए।

मोदी जी का गणित तो देखिए कि सोने के भाव बिकी दालों को सीजन में किसानों से मिट्टी के मोल ही खरीदा गया। दाल के जरिए दलालों ने न सिर्फ किसानो को लूटा बल्कि इसे जवानों की थाली से भी छीन लिया।

सीमा और एलओसी पर तैनात जवानों को अगर दाल के नाम पर हल्दी घुला नमक का पानी दिया जा रहा है तो इसमें दोष किसका?

साल में एक ओर तो दालों के दाम छह से सात गुना बढ़े तो दूसरी ओर मोदी सरकार ने जवानों की रसद के लिए सेना मुख्यालय से भेजे गए एस्टीमेट में भी 23 फीसदी की कटौती कर दी।

जवानों की थाली से दाल छीनने का यह एक तरह से सुनियोजित षङ्यंत्र साबित हुआ। अपने रिटेल धंधे के नाम पर रईसों और बाबाओं ने दाल स्टोर कर खूब कालाबाजारी की और मोटा माल कमाया।

सीमा पर तैनात जवानों के लिए दाल प्रोटीन का मुख्य स्रोत है। जवानों को दाल के नाम पर सिर्फ हल्दी पानी देने का मतलब उनकी मासपेशियों को कमजोर करना है। वह भी ऐसे समय में, जब पाकिस्तानी सैनिक घात लगाकर उनसे बर्बरता करते हैं।

दाल का सच सामने लाना अनुशासनहीनता नहीं है। क्योंकि यह सिर्फ दाल का खुलासा नहीं बल्कि उस षङयंत्र का भी खुलासा है, जो बताता है कि हमारे जवानों को कमजोर कर सेना को कैसे कमजोर किया जा रहा।

जवान जान की बाजी लगाकर देश की रक्षा करता है तो वह नौकरी की बाजी लगाकर सेना के साथ हो रहे षड्यंत्र का भी खुलासा कर सकता है। बीएसएफ जवान तेजबहादुर यादव को सेल्यूट किया जाना चाहिए।

Comments

BSF के बाद एयरफोर्स के जवान का वीडियो वायरल, मोदी से मांगी मौत
http://amarujala.com/chandigarh/after-bsf-jawan-ten-bahadur-video-indian-airforce-jawan-video-viral-demand-to-modi-to-do-suicide

Popular posts from this blog

चौकीदार का स्विस एकाउंट

जब जब धर्म को ग्लानि होती है, मैं उसका उत्थान करने स्वयं आता हूं : ईश्वर

कहत कत परदेसी की बात- प्रसंग पहेली का हल